now 1 3

lix 50

Friday, 30 September 2016

बाबा रामदेव ने बताएं चिकनगुनिया-डेंगू से बचने के आसान और कारगर घरेलू उपाय, जरूर अपनाएँ और शेयर करे

बाबा रामदेव ने बताएं चिकनगुनिया-डेंगू से बचने के आसान और कारगर घरेलू उपाय, जरूर अपनाएँ और शेयर करे

 

चिकनगुनिया और डेंगू :
देश के कई शहर चिकनगुनिया के चपेट में आ गए है। अब लोगों को नार्मल बुखार आने पर भी लगने लगा है कि उनहें कहीं चिकनगुनिया या फिर डेंगू तो नहीं है। योग गुरु रामदेव क कहना है कि चिकनगुनियया होने पर आपको डरने की जरुरत नहीं है। इसके लिए प्रिवेंटिव तरीके अपनाने चाहिए। इसे आप घर में ही कुछ उपाय अपना कर आसानी से इस बीमारी से निजात पा सकते हैबाबा रामदेव के अनुसार चिकनगुनिया उन लोगों को होता है। जिन लोगों की इम्यूनिटी सिस्टम बहुत कमजोर होता है। इस बीमारी से मौत ब्लड प्रेशर कम होना, प्लेटलेट की संख्या पर गिरावट आना, लीवर वीक होने के कारण होती है।
अगर आप चाहते है कि आपको इस समस्याओं से नहीं गुजरना पड़े। जो कि आपकी मौत का कारण बनें तो इसके लिए आप गियोल, अनार, पपीतेके पत्ते, एलोवेरा आदि का सेवन करेँ। जानिए बाबारामदेव ने चिकनगुनिया से बचने के क्या उपाय बताएं।
ऐसे बचें चिकनगुनिया और डेंगू से
डेंगू और चिकनगुनिया एक ही मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर हमेशा साफ पानी में ही पनपता है। इसलिए घर में थोड़ा साभी पानी एकत्रित न होने देँ। इससे आप इस बीमारी से बच सकते है।
बच्चों और महिलाओं का होता है इम्यून सिस्टम सबसे कमजोर :
बाब रामदेव ने बताया कि डेंगू और चिकनगुनिया के मच्छर कमजोर लोगों को अपना शिकार जल्दी बना लेता है। जिसके कारण उनको यह बीमारी जल्दी हो सकता है, क्योंकि इनके इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर होता है।
आसान और कारगर घरेलु उपाय :
1.अगर आपको चिकनगुनिया या डेंगू हो गया हो, तो गिलोय के पत्ते की डंडी तोड़ कर उनके पत्ते के साथ रस निकालकर पीएं। इससे हर दो घंटे में एक-एक चम्मच पीएं। इसका सेवन करना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।
2.अनार का जूस भी चिकनगुनिया और डेंगू के लिए फायदेमंद है। इस बीमारी का असर सीधे आपके पेट पर पड़ता है। इसलइए इसका सेवन करने आपके लीवर को बहुत लाभ मिलेगा।
3.डेंगू और चिकनगुनिया के लिए पपीते का पत्ता भी इस्तेमाल किया जा सकता है औऱ पीपता खाना भी फायदेमंद होता है।
4.इस बीमारी में पपीता, एलोवीरा, गेहूं और ज्वार के रस का उपयोग करना भी फायदेमंद होगा।

No comments:

Post a Comment