Wednesday, 26 October 2016

डाइटिंग के बिना भी पाई जा सकती है छरहरी काया


डाइटिंग के बिना भी पाई जा सकती है छरहरी काया

आजकल की युवा पीढ़ी इस भ्रम में रहती है कि अगर छरहरी काया प्राप्त करनी है तो डाइटिंग हर हाल में करनी पड़ेगी लेकिन यह गलत है क्योंकि यह डाइटिंग ही सुडौल शरीर को प्राप्त करने का एकमात्र रामबाण नहीं है।

अत्यधिक डाइटिंग की वजह से हमारे शरीर में जरूरी तत्वों की कमी हो जाती है, अत: अगर वाकई आप स्वस्थ शरीर चाहते हैं तो बजाय डाइटिंग करने के संतुलित भोजन को प्राथमिकता दीजिए।

यहां संतुलित भोजन का अर्थ समझना बेहद जरूरी है। संतुलित भोजन का अर्थ है कि आप उचित खाद्य-पदार्थ में अंडा, दही, ताजे मौसमी फल, मक्खन, हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे बंदगोभी, पालक, मेथी इत्यादि अवश्य शामिल करें। इन सबके अलावा भी आप स्वास्थ्य संबंधित निम्न बातों का ध्यान रखें :

- बाजार की डिब्बाबंद खाद्य सामग्री कम से कम इस्तेमाल करें।

- भूख लगे, तभी खाना खाएं परन्तु अनावश्यक रूप से पेट भरने की कोशिश न करें।

- सुबह नींबू-पानी पीने की आदत अवश्य डालें।

- कुछ लोगों को मानसिक तनाव के समय कुछ न कुछ खाने की आदत होती है, इस आदत से बचें।

- अपने भोजन में रेशेदार खाद्य सामग्री का अवश्य प्रयोग करें।

- अत्यधिक मिर्च-मसाले की बजाय अपने भोजन में कम मसाले का प्रयोग करें।

- प्रात:काल सूर्य उगने से पहले उठकर सैर करना सेहत के लिए फायदेमंद है।

- नियमित व्यायाम हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के अलावा हमारी मांसपेशियों को भी मजबूत करता है। अत: नियमित व्यायाम करने की कोशिश करें। प्रारम्भ में हल्के-फुल्के व्यायाम करें, तत्पश्चात कठिन व्यायाम शुरू करें।

- रोजमर्रा के कार्य जैसे घर पर सफाई, कपड़े धोना इत्यादि हमें स्वयं करने चाहिएं। ये हमारे लिए व्यायाम का काम करते हैं।

No comments:

Post a Comment