Tuesday, 25 October 2016

मोबाइल रेडिएशन के हानिकारक प्रभाव


मोबाइल रेडिएशन के हानिकारक प्रभाव-Harmful effects of mobile radiation

Mobile.मोबाइल को प्रयोग करने वाले लोगो की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है |लेकिन क्या आप जानते है की या कितना खतरनाक साबित हो सकता है |मोबाइल फ़ोन के नेटवर्क की गति का low एंड high होना मोबाइल रेडिएशन के लेवल को बढ़ाता है |जो की दिमाग और दिल के लिए बहुत ही खतरनाक माना जाता है |जी हाँ को अपने पास तब तक रखें जब तक आप कॉल पर बात कर रहें हों इसके बाद मोबाइल फ़ोन को अपने शरीर से दूर किसी टेबल पर रख दें |

मोबाइल रेडिएशन से होने वाले खतरे

  • मोबाइल रेडिएशन के सम्पर्क में अधिक समय तक रहने से ब्रेन ट्यूमर के खतरे सबसे अधिक होते है |
  • ज्यादा देर तक मोबाइल फ़ोन से बात-चीत करने से कण में हो सकता है कैंसर |
  • कभी-कभी जब आप मोबाइल फ़ोन से अधिक देर तक बात बात करते है तो मोबाइल गर्म हो जाता है |
  • इससे आपका कान भी गर्म हो जाता है ,लेकिन आपको अनुभव नही हो पता है |
  • यह सिर्फ मोबाइल के खतरनाक रेडिएशन के कारण होता है |
  • फ़ोन को अपने शर्ट के आगे वाले जेब में न रखें ,ऐसा करने से दिल की बीमारिया बढ़ने के खतरे अधिक होते है |
  •  फ़ोन को पैंट की जेब में न रखें  |
  •  सेल फ़ोन डाटा ऑन होने की स्थिति में ,कॉल पर बात-चीत के दौरान ,और नेटवर्क का लगातार आने-जाने से  मोबाइल रेडिएशन सबसे अधिक होता है |

कैसे बचें मोबाइल रेडिएशन से-Harmful effects of mobile radiation

  • मोबाइल के खतरनाक रेडिएशन से बचने के लिए इन बातों को हमेशा ध्यान में रखें |
  • फ़ोन पर बात-चीत के दौरान हैडफ़ोन का इस्तेमाल करें | या फ़ोन का स्पीकर ऑन कर के बात कीजिये |
    इस दौरान फ़ोन को हाथ में न पकडे ,किसी टेबल पर रख दें या शरीर से दूर होनी चाहिए |
  • सेल फ़ोन पर 24 घंटे में आधे घण्टे से अधिक बातचीत न करें |
  • फोन को अपने शरीर से दूर रखें ,जैसे -टेबल पर ,अपने कपड़ो की जेब में नही रखें|
  • गर्भवती स्त्री को फ़ोन अपने पेट के पास नही रखना चाहिए ,रेडिएशन से बच्चा प्रभावित होता है |
  • छोटे बच्चो को फ़ोन से दूर रखें |
  • बात-चीत करते समय मोबाइल फ़ोन को अपने कान से कम से कम 1 इंच की दूरी पर रखें |
  • तकिये के नीचे सेल फ़ोन न रखकर सोये |
  • किसी भी तरीके को अपनाकर फ़ोन को शरीर से दूर रखकर मोबाइल के हानिकारक रेडिएशन से बचा जा सकता है |

No comments:

Post a Comment