now 1 3

lix 50

Tuesday, 22 November 2016

क्या आप मोटापा घटाने वाले ए‍टकिंस डायट प्‍लान के बारे में जानते हैं..


क्या आप मोटापा घटाने वाले ए‍टकिंस डायट प्‍लान के बारे में जानते हैं..


वजन कम करने के लिए एटकिंस डाइट प्‍लान बहुत कारगर है। इसे डा. एटकिंस ने ईजाद‍ किया था, जिसका लाभ कई भारतीय मशहूर हस्तियों ने भी उठाया।  यह लो-कार्बोहाइड्रेट और उच्च प्रोटीन वाली डाइट है। इसके अनुसार खाद्य पदार्थो को उपचार के लिए बताई गई दवा के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है-जिसमें खाद्य पदार्थों का सही तालमेल दवाओं की तरह गुणकारी होता है
इस डाइट प्‍लान के तहत व्‍यक्ति अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को कम कर देता है और धीरे-धीरे इसे बढ़ाता है। इसके तहत असीमित मात्रा में फल व सब्जियों का सेवन भी शामिल है। यह डाइट वसा कम करने का सबसे उत्‍तम माध्यम है। इस आहार योजना में तीन तरह के भोजन और दो स्नैक्स होते हैं। स्नैक्स का सेवन दोपहर बाद और देर शाम रखा गया है। आइए हम आपको इस डाइट प्‍लान के बारे में विस्‍तार से बताते हैं

क्या आप मोटापा घटाने वाले ए‍टकिंस डायट प्‍लान के बारे में जानते हैं..

वजन कम करने के लिए एटकिंस डाइट प्‍लान बहुत कारगर है। इसे डा. एटकिंस ने ईजाद‍ किया था, जिसका लाभ कई भारतीय मशहूर हस्तियों ने भी उठाया।  यह लो-कार्बोहाइड्रेट और उच्च प्रोटीन वाली डाइट है। इसके अनुसार खाद्य पदार्थो को उपचार के लिए बताई गई दवा के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है-जिसमें खाद्य पदार्थों का सही तालमेल दवाओं की तरह गुणकारी होता है।
इस डाइट प्‍लान के तहत व्‍यक्ति अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को कम कर देता है और धीरे-धीरे इसे बढ़ाता है। इसके तहत असीमित मात्रा में फल व सब्जियों का सेवन भी शामिल है। यह डाइट वसा कम करने का सबसे उत्‍तम माध्यम है। इस आहार योजना में तीन तरह के भोजन और दो स्नैक्स होते हैं। स्नैक्स का सेवन दोपहर बाद और देर शाम रखा गया है। आइए हम आपको इस डाइट प्‍लान के बारे में विस्‍तार से बताते हैं।

कैसे बनायें एटकिन्स डायट प्लान

एटकिंस डायट प्‍लान के जरिये वजन धीरे-धीरे कम होता है, इसलिए अन्‍य विशेषज्ञ भी इस डायट प्‍लान को शरीर के लिए फायदेमंद मानते हैं। इस आहार योजना में डायट प्‍लान को कई हिस्‍से में बांटा गया है। इसमें व्‍यायाम पर ज्‍यादा जोर नहीं दिया गया है। लेकिन इसके साथ कुछ पाबंदियां भी हैं, जिसका पालन करना अनिवार्य है।

चरण 1

इसके पहले चरण में आमतौर पर दो सप्‍ताह के लिए होता है। एक से दो सप्ताह आपको 12 से 15 ग्राम कार्बोहाइड्रेट प्रतिदिन लेना होता है। इस दौरान आपको चिकन, रेड मीट, अंडे, पनीर, मछली, तेल, मसाले और जड़ी-बूटियों का सेवन नहीं करना है। इसके अलावा यदि आपने यह डाइट प्‍लान शुरू किया है तो एल्‍कोहल बिलकुल भी नहीं लेना है। सुबह के नाश्‍ते में आप केले का सेवन कर सकते हैं, यदि आपको अंडा बहुत पसंद हो तो खा सकते हैं वो भी केवल सुबह के नाश्‍ते में। दोपहर के भोजन में भूने हुए चिकन के साथ एक प्‍लेट सलाद खाइए। रात के खाने में उबला या भूना हुआ चिकन के साथ हरी सब्जियों का सेवन कीजिए, नींबू के रस के साथ सलाद भी खा सकते हैं। इसके अलावा आप दिन में दो बार स्‍नैक्‍स भी ले सकते हैं

चरण 2

एटकिंस डाइट प्‍लान में आप अपनी नियमित कार्बाइाड्रेट की मात्रा को बढ़ाकर 25 ग्राम प्रतिदिन कर सकते हैं। इस आहार योजना परिणाम इसके दो सप्‍ताह में दिखने लगता है। इसके दूसरे चरण में यानी दो सप्‍ताह बाद नाश्‍ते में दो अंडों के साथ हरी सब्जियों और ताजे फलों का सेवन कर सकते हैं। दोपहर के खाने में पनीर, गोभी या बेकन के साथ सलाद, कटा हुआ अंडा या भुना हुआ तुर्की बर्गर खा सकते हैं। रात के खाने में मांस के साथ सब्‍जी ले सकते हैं, इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है, स्‍नैक्‍स में कद्दू के बीज, फल और पनीर के टुकड़े खा सकते हैं।

चरण 3

इसके तीसरे चरण में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को दोबारा लेना शुरू करना होता है जो आपके आहार में पहले से शामिल था। इस दौरान आपका वजन कम होता है तब भी आप अपने डाइट में प्रत्‍येक सप्‍ताह 10 ग्राम कार्बोहाइड्रेट शामिल कीजिए। एटकिंस डाइट प्‍लान के तीसरे चरण में आप नाश्‍ते में शुगर मुक्‍त सीरप के साथ पतली रोटी खा सकते हैं। दोपहर के खाने में टूना मछली के साथ चिकन भी खा सकते हैं, इसके अलावा सूप, सलाद और फल भी दोपहर के खाने में शामिल कीजिए। रात के खाने में मछली, साबुत गेंहूं वाला पास्‍ता या ब्राउन राइस खाइए। तीसरे चरण में स्‍नैक्‍स में सूखे मेवे, फल, उबले अंडे खा सकते हैं।

चरण 4

इसके चौथे चरण यानी अंतिम चरण का पालन जीवनभर करना होता है, इसलिए इस चरण को लाइफटाइम मैंटेनेंस कहते हैं। इस चरण तक आप यह निर्धारित कर लेते हैं कि आपको कौन सा आहार सबसे ज्‍यादा पसंद आया। इसके प्रत्‍येक आहार में 10 से 20 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है, इसलिए आप अपने आहार को आसानी से चुन सकते हैं। इस चरण में ब्रेकफास्‍ट, लंच और डिनर में आप अपने हिसाब से आहार शामिल कर सकते हैं। अंडा, मांस, पनीर और पास्‍ता एक निश्चित मात्रा में खाने के कारण आपका वजन दोबारा बढ नहीं सकता है।

No comments:

Post a Comment