Saturday, 28 January 2017

स्लिम ट्रिम होने का तरीका

मोटापा कम कैसे करे आईये जानते है (Get slim hindi tips)


Know how to get slim hindi – खानपान की बदलती आदतों और व्यस्त जीवनशैली ने इंसानी जिन्दगी में भी बहुत कुछ बदल दिया है और जिसकी वजह से हम कई तरह की परेशानियो से गुजरते है जिसमे ‘मोटापा’ एक बड़ी समस्या है | एक सीमा तक कुछ “Healthy” होना ठीक है लेकिन अगर ये आपकी सेहत के लिए परेशानी खड़ी करने लगे तो जान लीजिये ये खतरे की घंटी है |
क्यों होता है मोटापा – मोटापा होने के कई कारण हो सकते है जिनमे से कुछ मुख्य निम्न है –
  • सबसे मुख्य कारण है खानपान सम्बन्धी कुछ गलत आदतें क्योंकि फास्टफूड के चलन के बाद छोटी उम्र में ही बच्चे फास्टफूड का शौकिया तौर पर अधिक सेवन करते है जिसकी वजह से शरीर में अत्यधिक वसा का जमाव हो जाता है और यही मोटापे का अहम कारण भी है |
  • व्यस्त जीवनशैली भी मोटापे का बड़ा कारण है क्योंकि जिन्दगी की भागदौड़ में हम इतने खो जाते है कि हम अपने शरीर के बारे में उचित देखभाल करने की सोच ही नहीं पाते और जिन लोगो का प्रोफेशन ऐसा है कि उन्हें अधिकतर समय बैठे रहना होता है उनके साथ ये समस्या अधिक देखने को मिलती है |
  • शारीरिक गतिविधियां नहीं के बराबर करने पर भी शरीर में उर्जा के खपत और उर्जा के ग्रहण के बीच में संतुलन नहीं रह जाता है जिसकी वजह से हम मोटापे के शिकार हो सकते है |
  • कभी कभी यह आनुवंशिक या बचपन से ही हो सकता है जो युवावस्था तक बना हुआ रह सकता है लेकिन ऐसा कम ही होता है |
मोटापे से होने वाली परेशानिया – मोटापे से कई तरह की परेशानिया और विकार पैदा होते है जैसे कि  हृदय रोग, मधुमेह, निद्रा कालीन श्वास समस्या, कई प्रकार के कैंसर और ऑस्टेयोआर्थ्राइटिस जैसी गंभीर बीमारियों के मूल में मोटापा हो सकता है इसलिए हमे अपने भोजन संबधी आदतों के बारे में हमेशा सजग रहना चाहिए और समय समय पर खुद का मुल्यांकन करते रहना चाहिए |

मोटापा कैसे कम करें – हालाँकि इस बारे में आपको बहुत से लेख इन्टरनेट पर मिल सकते है जिनमे से कुछ ऐसे है जो आपके लिए लाभप्रद हो सकते है जबकि कुछ ऐसे भी है जिन्हें follow करने के लिए आपको मेहनत लगती है लेकिन कुछ ऐसे तरीके है जिनकी मदद से आप बड़ी आसानी से खुद में ज्यादा कुछ बदलाव नहीं करते हुए भी मोटापे जैसी समस्या से निजात पा सकते है |
चबा कर खाना खाएं -बहुत से लोग इस बारे में यही कहते हुए नजर आते है कि वो तो हमेशा यही करते है लेकिन आप जान ले किसी भी समस्या से निजात पाना कोई rocket science नहीं है और खासकर तब तो बिलकुल भी नहीं जब कुछ दुष्परिनाम आपकी आदतों से जुड़े हो क्योंकि आप उन्हें बड़ी आसानी से अपनी आदतें सुधारते हुए बदल सकते है ऐसे ही अगर आप खाने को अच्छे से चबा चबा कर खाते है यह खाने को छोटी छोटी बाइट के रूप में खाते है तो खाने के कुछ समय बाद आप खुद को कम भूखा महसूस करते है जबकि वो लोग जो जल्दीबाजी में खाना खाते है उन्हें धीरे खाने वालों के मुकाबले अधिक भूख महसूस होती है |
धीरे धीरे खाएं – धीरे धीरे खाने के पीछे लॉजिक ये है कि जब आप जल्दी जल्दी खाते है तो खाते समय आप उन लोगो से अधिक उर्जा नष्ट करते है जो लोग धीरे धीरे खाते है इसलिए खाने के बाद जल्दी खाने वालों को भूख अधिक लगती है फलस्वरूप उन्हें अधिक भोजन लेना होता है क्योंकि ऐसे में लोग overeating के शिकार हो जाते है इसलिए जितना हो सके आराम से खाएं |

No comments:

Post a Comment